प्रेमिका से शादी कर रहे CRPF जवान ने पत्नी को भी साथ बिठाया, वायरल होने लगी तस्वीर

नई दिल्ली: एक साथ दो महिलाओं से शादी वो भी सबकी रजामंदी के साथ… ये सुनने में थोड़ा अटपटा लगेगा, लेकिन ये हकीकत है। जो लोगों का सपना कभी पूरा नहीं हो पाता, वो छत्तीसगढ़ के रहने वाले इस शख्स का पूरा हो चुका है। जी हां ये शख्स कोई और नहीं बल्कि सीआरपीएम में तैनात जवान अनिल है।

मंडप पर दो महिलाओं से जवान ने की शादी

  • सब हैरान तो तब रह गए जब मंडप में वो दो महिलाओं से शादी रचाने के लिए बैठ गया। हैरानी की बात तो ये है कि उन दोनों में से एक प्रेमिका है और दूसरी पत्नी है। यानी प्रेमिका के साथ पत्नी से दोबारा शादी कर ली।
  • दरअसल, ये हैरान करने वाला मामला छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले का है। खबरों के मुताबिक CRPF जवान अनिल की शादी चार साल पहले गांव में ही हुई थी। इसके बाद अनिल का दिल आंगनबाड़ी में काम करने वाली एक लड़की पर आ गया।
  • फिर क्या था वहीं हुआ जो प्यार में लोग कर गुजरने के लिए तैयार रहते हैं। जब दोनों के बीच प्रेम फल फूल रहा था तो अनिल जब जब छुट्टी आते तो गांव में उस लड़की से जरूर मिलते।

परिवार की रजामंदी के बाद हुई शादी

लेकिन समाज से दूर यूं छिप-छिपकर मिलना दोनों को नागवार गुजर रहा था। फिर एक दिन हिम्मत दिखाते हुए जवान अनिल ने परिवार को अपने प्रेम प्रसंग की सारी जानकारी दे दी। प्रेम संबंधों की बात पता चलने पर पत्नी की रजामंदी के बाद परिवार और समाज की बैठक हुई। हैरानी तो तब हुई जब समाज की बैठक में अनिल की पत्नी ने किसी तरह की आपत्ति नहीं होने की बात कही। बैठक में किसी तरह की आपत्ति ना होने से दोनों के बीच का रास्ता पूरी तरह साफ हो गया, लेकिन अनिल ने पहली पत्नी को भी नहीं छोड़ा। उसने दोनों के साथ एक ही मंडप में शादी कर ली।

परिवार की रजामंधी के बाद समाजिक रीति रिवाज के साथ एक ही मंडप में अनिल ने दोनों से शादी कर ली। पहली पत्नी और प्रेमिका दोनों को दुल्हन बनाकर बैठाया गया। रिपोर्ट के मुताबिक पहली पत्नी से अनिल को कोई संतान नहीं है। यह भी अनिल की दूसरी शादी का कारण बना। इसलिए परिवार वाले भी दूसरी बहू लाने को राजी हुए। अनिल के गांव में इस शादी में सभी शरीक हुए और समारोह भी काफी धूमधाम से मना। लेकिन हिंदू मैरिज एक्ट के तहत यह शादी गैरकानूनी है। जानकारों के मुताबिक हिंदू मैरिज एक्ट के तहत कोई भी व्यक्ति पहली पत्नी के रहते दूसरी शादी नहीं कर सकता। इसके लिए पत्नी को तलाक देना जरूरी है।

क्या कहता है नियम ?

हालांकि नियमों के मुताबिक, सरकारी कर्मचारी के लिए शादीशुदा रहते हुए शादी करना मिसकंडक्ट समझा जाता है। द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, सीआरपीएफ के प्रवक्ता बीसी पात्रा ने कहा है कि जवान के साथ दिक्कत आ सकती है, क्योंकि नियम के तहत वह एक साथ दो पत्नी के साथ नहीं रह सकता।