योगी सरकार ने पेश किया 4.79 लाख करोड़ का अपना तीसरा बजट, करोड़ रुपये की नई योजनाओं का किया ऐलान

0
94
साभार: Google

उत्तर प्रदेश: देश का बजट पेश होने के एक हफ्ते बाद ही यूपी विधानसभा में योगी आदित्यनाथ ने 2019-20 का बजट पेश कर दिया है। योगी सरकार ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा में 4.79 लाख करोड़ का अपना तीसरा बजट पेश किया है। करीब 21,212 करोड़ की नई योजनाओं की घोषणा वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल कर रहे हैं।

बजट 2019-20 के बड़े ऐलान

स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण के लिए 6000 करोड़ रुपये, प्रदेश की ग्राम पंचायतों में 750 पंचायत भवनों के निर्माण के लिए 14 करोड़ रुपये और ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं को खेल और रचनात्मक कार्यों के लिए प्रोत्साहित करने के लिए युवक मंगल दल योजना के लिए 25 करोड़ रुपये की व्यवस्था।

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना: 3,488 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना: 2,954 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन: 1,393 करोड़ रुपये, मुख्यमंत्री आवास योजना-ग्रामीण: 429 करोड़ रुपये, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन: 224 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।

योगी सरकार ने स्वास्थ्य को लेकर बड़ा ऐलान किया है। वित्त मंत्री ने कहा है कि कैंसर संस्थान लखनऊ के लिए 248 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। लखनऊ में अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय के लिए 50 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में आयुष विश्वविद्यालय भी खोले जाएंगे। जिसके लिए बजट में 10 करोड़ रुपये का ऐलान किया गया।

वित्त मंत्री ने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण अंचलों में लग रहे 500 हाट-पैठ का विकास 150 करोड़ रुपये की लागत से मंडी परिषद द्वारा किए जाने का निर्णय लिया गया है। 2019-20 के लिए 1840 रुपये प्रति क्विंटल की दर से 6000 क्रय केंद्रों के माध्यम से गेहूं क्रय किया जाना प्रस्तावित, 60.51 लाख क्विंटल बीज वितरण और 77.26 लाख मीट्रिक टन उर्वरक वितरण का लक्ष्य है।

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के लिए 892 करोड़, राष्ट्रीय फसल बीमा योजना के लिए 450 करोड़ और उर्वरकों के पूर्व भंडारण योजना के लिए 150 करोड़ रुपये का प्रावधान है। इसके अलावा वित्त मंत्री ने कहा कि बुंदेलखंड के लिए बुंदेलखंड विकास बोर्ड का गठन किया जाएगा। इसी तरह पूर्वांचल विकास बोर्ड के गठन का भी ऐलान किया गया है। कुशीनगर के साथ गौतमबुद्धनगर का एयरपोर्ट भी जल्द ऑपरेशनल होने का वादा भी किया गया है।

गोवंश को लेकर योगी सरकार ने बजट में बड़ा ऐलान किया है। योगी आदित्यनाथ की सरकार ने गांवों में गोवंश के रख-रखाव पर 247 करोड़ और शहरों में कान्हा गोशाला के लिए 200 करोड़ का प्रस्ताव रखा है। सहकारी क्षेत्र की बंद चीनी मिलों के लिए 50 करोड़ रुपये और पीपीपी मोड पर चलाने के लिए 25 करोड़ रुपये देने का भी ऐलान किया है।

सरकार ने अपने तीसरे बजट में 36 नए थानों और पुलिस के लिए बैरक बनाने को 700 करोड़ रुपये, 7 पुलिस लाइन के लिए 400 करोड़ रुपये और पुलिस के टाइप a-b आवास के लिए 700 करोड़, पुलिस आधुनिकीकरण के लिए 204 करोड़ रुपये के प्रस्ताव का ऐलान किया है। इसके अलावा बस सेवा से वंचित 14,561 गांव जोड़े जाएंगे। आपको बता दें पिछले बजट के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक है यह बजट।