इस एक्ट्रेस ने हार्दिक पांड्या संग पोस्ट की फोटो, कैप्शन में लिखा- मेरा भाई जैसा कोई नहीं

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन के बीच मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी हार्दिक पांड्या एक बार फिर चर्चा का विषय बन गए हैं। इस बार भी ये चर्चा महिला से जुड़ी हुई है। जिसे लेकर सोशल मीडिया में उस लड़की की भी आलोचना हो रही है जिसने हार्दिक संग फोटो सोशल मीडिया में डाली।

एक्ट्रेस क्रिस्टल डिसूजा ने हार्दिक को बताया भाई, हो गई ट्रोल

  • दरअसल, ये महिला कोई और नहीं बल्कि बॉलीवुड एक्ट्रेस क्रिस्टल डिसूजा है। टीवी सीरियल ‘एक हजारों में मेरी बहना है’ और ‘ब्रह्मराक्षस’ से छोटे पर अपनी पहचान बनाने वाली एक्ट्रेस क्रिस्टल समेत हार्दिक पांड्या को लोगों ने फोटो के कैप्शन को लेकर निशाना साधा है।
  • क्रिस्टल ने अपने ऑफिशियल इंस्टा अकाउंट पर हार्दिक के संग फोटो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा, ”मेरे भाई जैसा कोई हार्डिच नहीं है। बस, इसी को लेकर वह ट्रोल्स के निशाने पर आ गईं।

दरअसल, करण जौहर के चैट शो ‘काफी विद करण’ से अपनी छवि को लेकर आलोचना झेलने वाले पांड्या को एक एक्ट्रेस द्वारा ‘भाई’ कहना सोशल मीडिया यूजर्स को रास नहीं आया और उन्होंने एक्ट्रेस की क्लास लगा दी। निशाना साधते हुए एक यूजर ने लिखा कि पांड्या लड़कियों के बारे में अलग ही सोच रखता है। एक लड़की कैसे उसे पसंद कर सकती है?” वहीं, एक और शख्स ने कमेंट किया है कि मैडम संभल कर, लेडी किलर है।

करण जौहर के शो में हार्दिक ने दिया था विवादित बयान

आपको बता दें कि हार्दिक पांड्या और केएल राहुल ने बॉलीवुड निर्देशक करण जौहर के चैट शो ‘कॉफी विद करण’ में जनवरी में एक एपिसोड के दौरान महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक बातें की थीं। जिसके चलते ये मामला काफी विवादों में भी रहा था और सोशल मीडिया पर उन्हें काफी ट्रोल भी किया गया था।

महिलाओं पर टिप्पणी के बाद BCCI ने उठाया था ये फैसला

महिलाओं पर टिप्पणी के बाद दोनों को बीसीसीआई ने सीओए के साथ मिलकर लिए संयुक्त फैसले के तहत खेल के सभी प्रारुपों (वनडे, टेस्ट और टी20) से तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित कर दिया था। BCCI के फैसले के बाद उन्हें ऑस्ट्रेलिया में जारी तीन वनडे मैचों की सीरीज बीच में छोड़कर स्वदेश लौटना पड़ा था। इस फैसले के बाद दोनों ने ‘बिना शर्त’ माफी भी मांगी थी।

महिलाओं पर अभद्र टिप्‍पणी के मामले में बीसीसीआई ने हार्दिक पांड्या और केएल राहुल पर कार्रवाई करते हुए 20-20 लाख रुपये का जुर्माना लगाया था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त की गई प्रशासकों की समिति (COA) ने इन दोनों पर जांच पूरी न होने तक प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन बाद में उन्हें वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय टीम में भी शामिल किया गया।