जान लो, आंखों का फड़कना होता है शुभ या अशुभ !
श्रद्धा के भाव

जान लो, आंखों का फड़कना होता है शुभ या अशुभ !

‘अरे कौन सी आंख फडक़ रही है दांयी या बांयी’ अक्सर ऐसा सुनने को मिलता है जब भी हम किसी को ये बताते है कि हमारी आंख फड़क रही है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार आंख फड़कना ये बताता है कि हमारे साथ कुछ शुभ होने वाला है या कुछ अशुभ। शास्त्रों के अनुसार ये भी कहा जाता है कि महिलाओं के लिए बायीं आंख फड़कना शुभ होता है जबकि पुरुषो के लिए दायीं आंख फड़कना शुभ होता है। अगर ज्योतिष की माने तो हमारा शरीर का हर वो अंग जो फड़कने लगे वो हमारे साथ होने वाले अच्छे और बुरे को हमे बताता है।

Source-google

दायीं आंख (Right Eye) फड़कना

भारत में पुरुषो के लिए दायीं आंख (Right Eye) फड़कना शुभ होता है, जबकि अगर महिला की  दायीं आंख फड़के तो उसे अशुभ माना जाता है। ये भी कहा जाता है कि अगर दांयी आंख (Right Eye) फड़के तो महिलाओं के जीवन में संकट आता है। यदि किसी आदमी की दायीं आंख (Right Eye) की ऊपरी पलक और भौंहे फड़कती हैं तो  मतलब है की उनकी साड़ी इच्छाएं जल्द ही पूरी होने वाली है।

Source-google

बायीं आंख (Left Eye) फड़कना

पुरुषों की अगर बायीं आंख (Left Eye) फड़कती है तो इसका ये भी मतलब होता है कि उनके किसी दुश्मन से उनकी लड़ाई होने वाली है या फिर वो किसी के सामने बेइज्जत होने वाले है। बायीं आंख (Left Eye) के ऊपर का हिस्सा फड़के तो किसी अनहोनी के होने की संभावना भी होती है। वही महिलाओं की अगर बायीं आंख (Left Eye) फड़कती है तो इसका ये मतलब होता है कि उनके जीवन में कुछ अच्छा होने वाला है और अगर बायीं आंख (Left Eye) सभी तरफ फड़कने लगे तो जल्द ही उनके शादी के योग बनने वाले है।

Source-google

आंख फड़कने के वैज्ञानिक कारण

अभी तक हमने ये जाना की शास्त्र के अनुसार आंख फड़कने के क्या-क्या कारण होते है लेकिन अब हम ये जानेंगे की विज्ञान इस बारे में क्या कहता है। कई बार आंख फड़कने के लिए हमारी सेहत भी जिम्मेदार होती है।
– ज़्यादा देर तक Computer पर काम करने से आंखे थक जाती है और फड़कने लगती है।
– नींद पूरी न होने के कारण भी आंखो में ब्लड नहीं पहुंच पता जिसकी वजह से आंखे फड़कने लगती है।
– अगर कम रोशनी में बैठ कर पढ़ा जाये या काम किया जाए तो भी आंखे फड़कने लगती है।
– ज़्यादा शराब पीने से भी कई बार आंखे फड़कने लगती है।
– मासपेशियो की वजह से भी आंखो फड़कने लगती है।
– रोज़ ले रहे तनाव के कारण भी आंख फड़क सकती है।
– आंखों में सूखापन, आंखों में एलर्जी, पानी आना, खुजली आदि समस्या से भी आंखो फड़कने लगती है।

Source-google

आंख फड़कने का उपचार

– अगर ज़्यादा आंख फड़क रही है तो आप आंखो पर हल्का सा मसाज कर सकते है।
– अगर आंख में खुश्की है तो उसे आप आई ड्रॉप भी डाल सकते है।
– रात में 6 से 8 घंटे की अच्छी नींद लेने से इस समस्या से आप दूर हो सकते है।

Source-google
4 November, 2019

About Author

Rachna