550वीं गुरुनानक जयंती, ODD-EVEN पर मिली छूट
श्रद्धा के भाव

550वीं गुरुनानक जयंती, ODD-EVEN पर मिली छूट

सिख समुदाय का नाम लेते ही जो सबसे पहले हमारे दिमाग में ख्याल आते ही याद आता है सिक्खों का मददगार रवैया…. सिक्खों में सेवा की बहुत भावना होती है  अगर आप गुरूद्वारे भी जाते है तो देखंगे कि कोई पानी पीला रहा है, कोई लंगर खिला रहा है, कोई साफ़ सफाई कर रहा है। वैसे तो सभी सिख गुरूद्वारे जाते है मत्था टेकते है, लेकिन साल में ऐसा भी एक दिन आता है जब सभी सिख गुरूद्वारे में जाकर मोमबत्ती जलाकर प्रकाश दिवस मानते है। उस दिन यानी 12 नवंबर को गुरु नानक देव का जन्मदिन भी मनाया जाता है।  

Source-google

क्या है 12 नवंबर को ?

पूज्य गुरु नानक देव सिख के प्रथम गुरू माने जाते हैं, इन्हें सिख धर्म का संस्थापक माना जाता है। गुरु नानक देवजी का जन्म 1469 ई. में तलवंडी रायभोय नामक स्थान पर हुआ था। कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन गुरु नानक जंयती मनाई जाती है। इस साल 12 नवंबर 2019 को 550वीं गुरु नानक जयंती मनाई जाएगी। गुरु नानक देव जयंती को ‘प्रकाश पर्व’ के रूप भी मनाया जाता है। इस दिन सिख समुदाय के लोग वाहे गुरु का नाम जपते हुए सुबह प्रभात फेरी निकालते हैं।

Source-google

कौन थे नानक देव जी

गुरु नानक देव जी ने सिख धर्म की स्थापना की। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इनका जन्म 1526 में कार्तिक पूर्णिमा के दिन हुआ था लेकिन कुछ विद्वानों का मानना है कि गुरु नानक देव की जन्मतिथि 15 अप्रैल 1469 में हुआ था। कहा जाता है कि बचपन से ही नानक साहब का मन संसार और उसके कामों में नहीं लगता था, वह ईश्वर की भक्ति और सत्संग आदि में ज्यादा रहते थे। सिर्फ 8 साल की उम्र में ही उन्होंने स्कूल भी छोड़ दिया था। भगवान के लिए इतना समर्पण देखकर लोग इन्हें दिव्य पुरुष मानने लगे थे।

Source-google

कैसे मनाते है गुरु पर्व

इस दिन गुरुद्वारे में शब्द-कीर्तन करते हैं, रुमाला चढ़ाते हैं, शाम के वक्त लोगों को लंगर खिलाते हैं और मोमबत्ती जलते है। गुरुद्वारों और घरों में लोग गुरुबाणी का पाठ भी कराते हैं। इस दिन जुलूस एवं शोभा यात्राएं निकाली जाती हैं। इस जुलूस में हाथी, घोड़ों आदि के साथ नानकदेव के जीवन से संबंधित सुसज्जित झांकियां बैंड-बाजों के साथ निकाली जाती हैं। प्रकाश पर्व में पंजाब सहित पूरे हिन्दुस्तान में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है।  

Source-google

गुरु नानक देव जी की शिक्षाएं

– परमेश्वर परमपिता एक है।
– कोई भी हिंदू- मुसलमाननहीं है, सभी मनुष्य समान हैं।
– जिसे खुद में भरोसा नहीं है उसे कभी ईश्वर में भरोसा नहीं हो सकता।
– वो बोलो जो तुम्हारे लिए सम्मान लेकर आये।
– एक ईश्वर की उपासना करो।

Source-google

Odd-Even से छुटकारा

गुरुपर्व के 550वें ‘प्रकाश पर्व’ के उपलक्ष्य में दिल्ली में सोमवार और मंगलवार को Odd-Even सिस्टम लागू नहीं होगा। दो दिन के लिए ऑड-ईवन न होने से दिल्ली में निजी वाहनों मालिकों को राहत तो मिलेगी। दिल्ली में इन 2 दिनों में लाखों निजी वाहन उतरने की सम्भावना है।

Source-google

करतारपुर के जत्था रवाना

550वे प्रकाश पर्व के अवसर पर पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब में माथा टेकने का सपना भी पूरा हो रहा है। बता दे कि पिछले 70 साल से हर एक सिख पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब के दर्शन करने को बेताब है। करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन हो चुका है और करतारपुर के लिए कल ही पहला जत्था रवाना हो चुका है।

Source-google
11 November, 2019

About Author

Rachna