राम माधव के ‘सीमा पार से निर्देश’ वाले बयान से भड़की NC-PDP, उमर बोले- साबित करो.. या माफी मांगो
देश, ब्रेकिंग

राम माधव के ‘सीमा पार से निर्देश’ वाले बयान से भड़की NC-PDP, उमर बोले- साबित करो.. या माफी मांगो

जम्मू-कश्मीर: विधानसभा भंग होने के बाद सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। राम माधव के बयान से NC-PDP को बड़ा धक्का लगा है। पहले निकाय चुनाव के बहिष्कार और अब सरकार बनाने के दावे को लेकर राम माधव ने दोनों पार्टियों को जमकर घेरा है। राम माधव ने कहा है कि ये दोनों फैसले NC-PDP ने खुद नहीं लिए, बल्कि ये सीमा पार से आए हैं। राम माधव के बयान से साफ है माधव का कहना है कि पाकिस्तान की ओर से ये तमाम फैसले लिए जा रहे हैं।

ऐसे में जिन पार्टियों पर आरोप लगे हैं उनका बौखलाना भी लाजमी था। राम माधव के बयान के कुछ मिनटों में ट्विटर पर पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और राम माधव के बीच जुबानी जंग छिड़ गई। राम माधव के बयान पर उमर अब्दुल्ला ने पलटवार किया। उन्होंने ट्वीट किया कि मैं आपको चैलेंज करता हूं कि इन आरोपों को सिद्ध करके दिखाएं। आपके पास RAW-NIA-CBI है, जांच कर पब्लिक डोमेन में ला सकते हैं। या तो इन आरोपों को साबित करें अन्यथा माफी मांगें। ट्विटर के बाद उमर अब्दुल्ला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यही बात दोहराई है।

गौरतलब है कि राम माधव ने कहा कि ऐसा लगता है कि राज्य में सरकार बनाने को लेकर उन्हें नए आदेश मिले होंगे। इसी कारण राज्यपाल को ये फैसला लेना पड़ा। उमर अब्दुल्ला ने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है कि राजभवन की फैक्स मशीन खराब हुई हो। ये मिलीभगत है, लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश की जा रही है। इसकी जांच होंनी चाहिए। गौरतलब है कि बुधवार शाम को महबूबा मुफ्ती ने पीडीपी के 29, एनसी के 15 और कांग्रेस के 12 विधायकों को मिलाकर 56 विधायकों का समर्थन हासिल होने का दावा करते हुए सरकार बनाने की पेशकश की थी। जिसके बाद राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने विधानसभा भंग करने का फैसला किया।

22 November, 2018

About Author

[email protected]