मायावती को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका,CJI ने कहा- जितने पैसे हाथियों और अपनी मूर्ति पर खर्च किए वो लौटाना होगा

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है। देश की सबसे बड़ी अदालत ने एक याचिका की सुनवाई के दौरान टिप्पणी करते हुए कहा कि मायावती ने अपनी और हाथियों की मूर्तियां बनाने में जितना जनता का पैसा खर्च किया है, उसे वापस करना चाहिए।

आपको बता दें, इस पूरे मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस रंजन गोगोई कर रहे थे। इस मामले की अगली सुनवाई 2 अप्रैल को होगी। जानकारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने 2009 में दायर रविकांत और अन्य लोगों द्वारा याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि मायावती को मूर्तियों पर खर्च सभी पैसों को सरकारी खजाने में जमा कराना चाहिए।

सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने मायावती के वकील को कहा कि अपने क्लाइंट को कह दीजिए कि सबसे वह मूर्तियों पर खर्च हुए पैसों को सरकारी खजाने में जमा कराएं। आपको बता दें कि मायावती के द्वारा उत्तर प्रदेश में बसपा शासनकाल में कई पार्कों का निर्माण करवाया गया। इन पार्कों में बसपा संस्थापक कांशीराम, मायावती और हाथियों की मूर्तियां लगवाई गई थीं।