2019 से पहले ही ‘ढह’ गया विपक्ष, मायावती ने कहा- हमें किसी की जरूरत नहीं है
देश, ब्रेकिंग

2019 से पहले ही ‘ढह’ गया विपक्ष, मायावती ने कहा- हमें किसी की जरूरत नहीं है

नई दिल्ली: चुनावी सुगबुगाहट के बीच विपक्ष दलों में ‘तू-तू मैं-मैं’ होने लगी है। अब हर पार्टी फूक-फूक कर कदम रख रही है। 2019 से पहले ही विपक्ष में दरार दिखने लगी है, यही वजह है कि कांग्रेस के साथ बीएसपी के गठबंधन को लेकर चल रही खबरों पर मायावती ने विराम लगा दिया है। मायावती ने साफ कर दिया है कि आगामी चुनाव में वो कांग्रेस का समर्थन नहीं लेना चाहती है।

एमपी और छतीसगढ़ के विधानसभा चुनाव से पहले बीएसपी और अजीत जोगी के बीच हुए गठबंधन पर अब सियासत तेज हो गई है। एक ओर जहां मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के साथ गठबंधन में शामिल ना होने के फैसले पर मायावती की आलोचना की है, वहीं मायावती ने दिग्विजय के बयान के बहाने पूरी कांग्रेस पार्टी की मंशा पर सवाल खड़े किए हैं। मायावती ने कांग्रेस को तगड़ा झटका देते हुए गठबंधन से साफ इनकार कर दिया है। आज उन्होंने मध्य प्रदेश और राजस्थान में अलग चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया। मायावती ने अपने इस फैसले के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है।

मायावती ने साफ कहा कि मध्यप्रदेश और राजस्थान में उनकी पार्टी कांग्रेस से तालमेल किसी भी कीमत पर नहीं करेगी। मायावती पहले ही छत्तीसगढ में जोगी की पार्टी से हाथ मिला चुकी हैं। उन्होंने कहा कि राजस्थान और मध्य प्रदेश बीएसपी अकेले अपने बलबूते चुनाव लड़ेगी। दिग्विजय सिंह और कुछ अन्य नेता कांग्रेस-बीएसपी गठबंधन नहीं होने देना चाहते। उन्होंने ये भी कहा कि ये लोग बीजेपी के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं।

दरअसल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने एक समाचार चैनल से इंटरव्यू में इशारों में कहा था कि मायावती पर सीबीआई और ईडी का दबाव है, जिसकी वजह से वह कांग्रेस के साथ नहीं आ रही हैं। उन्होंने कहा कि वह मायावती का सम्मान करते हैं और उनकी मजबूरी भी समझते हैं। साथ ही उन्होंने कहा था कि मध्य प्रदेश में गठबंधन की जिम्मेदारी कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया की है।

मायावती ने कहा कि कांग्रेस बीजेपी को हराना नहीं चाहती, बल्कि अपने पार्टनर्स को ही हराना चाहती है। उन्होंने कहा कि राजस्थान और मध्य प्रदेश में या तो हम क्षेत्रीय पार्टियों के साथ गठबंधन करेंगे या फिर अकेल चुनाव लड़ेंगे, मगर कांग्रेस के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेंगे।

3 October, 2018

About Author

[email protected]