प्रियंका-राहुल के साथ लगे रॉबर्ट वाड्रा के पोस्टर, हंगामे के बाद हटवाने पड़े

0
95
साभार: Google

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी की राजनीति में एंट्री हो चुकी है। लेकिन बेटी के बाद अब दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने भी पोस्टर में एंट्री कर ली है। बता दें, राजधानी दिल्ली में कांग्रेस दफ्तर के बाहर प्रियंका गांधी के पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टर में प्रियंका के साथ राहुल गांधी और पति रॉबर्ट वाड्रा भी नजर आ रहे हैं। पोस्टर में नए अंदाज में नारे भी लिखे गए हैं, जिसमें यह बताने की कोशिश की गई है कि कांग्रेस कट्टर सोच पर नहीं, बल्कि युवा जोश पर यकीन करती है।

हालांकि, अब कांग्रेस नेता जगदीश शर्मा का आरोप है कि इन पोस्टरों को NDMC के द्वारा हटवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रातभर मेहनत करके उन्होंने ये पोस्टर लगाए लेकिन भारतीय जनता पार्टी के दबाव में आकर NDMC ने ये पोस्टर हटवा दिए हैं। जगदीश शर्मा ने कहा कि बीजेपी गंदी राजनीति कर रही है। आपको बता दें, कांग्रेस दफ्तर के बाहर जिन पोस्टर को लगाया गया था उनपर लिखा था- कट्टर सोच नहीं युवा जोश’ और ‘जन-जन की यही पुकार राहुल-प्रियंका अबकी बार।

वहीं, कांग्रेस पार्टी का काम संभालने से पहले प्रियंका गांधी ने नेताओं वाले तेवर दिखाए और अकबर रोड पर झुग्गी में जाकर दिव्यांगों से मुलाकात की। दरअसल, मंगलवार को दिल्ली में राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया की बैठक होनी थी, जिसमें मिशन 2019 पर रणनीतिक चर्चा होना था। इस बैठक में पहुंचने से पहले प्रियंका गांधी झुग्गी में जाकर दिव्यांगों से मिली थीं और पीछे के रास्ते से बैठक में पहुंची थीं।

आपको बता दें, कि मंगलवार को यूपी कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को उनका नया ऑफिस मिल गया है। दिल्ली के 24 अकबर रोड में मौजूद कांग्रेस दफ्तर में प्रियंका को उनका कमरा दे दिया गया है, जहां उनकी नेम प्लेट भी लग गई है। खास बात ये है कि प्रियंका गांधी के इस कमरे से ही राहुल गांधी के पॉलिटिकल करियर की शुरुआत हुई थी। ये कमरा कभी राहुल गांधी का हुआ करता था। प्रियंका गांधी का ये कमरा कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बिलकुल बगल में है। प्रियंका गांधी वाड्रा को उनका नया ऑफिस मिलने के बाद ही दिल्ली में कई जगह कांग्रेस के ये पोस्टर दिखे थे।