fbpx

इमरान खान का शक निकला सही, PAK को दहलाने की तैयारी में थी भारतीय नौसेना.. बस निर्देश का था इंतजार

नई दिल्ली: पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारतीय वायुसेना ही नहीं नौसेना भी पूरी तरह तैयार थी। हर हालात से निपटने की कसम खाने के बाद नौसेना की तैनाती उस मोर्चे पर कर दी गई थी, जहां से निर्देश मिलते ही आक्रमण होना था। इस बात की जानकारी खुद नौसेना ने एक ट्वीट के जरिए दी है।

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक भारतीय नौसेना ने इस संबंध में ट्वीट कर बताया कि पुलवामा टेरर अटैक के बाद भारतीय नौसेना हर तरह से तैयार थी। भारत की और से उत्तरी अरब सागर में लड़ाकू विमान के अलावा विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रमादित्य और वॉर ग्रुप के दूसरे युद्धपोतों को तैनात किया गया था। भारतीय नौसेना के इस कदम से पाकिस्तानी नौसेना मकरान तट के करीब तैनात रहने को मजबूर हुर्इ थी। इसके अलावा पाकिस्तानी नौसेना खुले समुद्री इलाके में कुछ भी करने से बचती रही। भारतीय नौसेना ने यह फैसला पुलवामा टेरर अटैक के बाद समुद्री रास्तों से आतंकी हमलों को देखते हुए लिया था।

बता दें, पुलवामा टेरर अटैक के बाद नेवी के प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने भारत-प्रशांत क्षेत्रीय वार्ता में कहा था कि समुद्र के माध्यम से आतंकवादियों को प्रशिक्षित किए जाने की बात सामने आर्इ है। इंटेलीजेंस की रिपोर्ट है कि आतंकियों को भारत में अलग-अलग तरीकों से हमले करने की मजबूत ट्रेनिंग दी जा रही है। इसमें समुद्र के रास्ते हमला करना भी शामिल है।

26/11 के हमले को अंजाम देने के लिए लश्कर-ए-तैयबा ने भी समुद्री-आतंकियों को भेजा था। इन आतंकियों ने मुंबई में पहुंचने और तबाही मचाने के लिए समुद्र का ही सहारा लिया था। बता दें कि बीती 14 फरवरी को पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए हमले में पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के 41 के जवान शहीद हो गए थे।