विकिलीक्स के सह-संस्थापक जूलियन असांजे लंदन से गिरफ्तार, इक्वाडोर दूतावास में 7 सालों से ले रखी थी शरण

  • जूलियन असांजे ने बड़ी संख्या में सार्वजनिक किए थे अमेरिका के कई गोपनीय दस्तावेज
  • प्रत्यर्पण के डर से इक्वाडोर दूतावास में पिछले 7 साल से जूलियन असांजे ने ले रखी थी शरण

लंदन। अमेरिका के गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजनिक करने वाले विकिलीक्स के सह संस्थापक जूलियन असांजे को लंदन से गिरफ्तार कर लिया गया है। जूलियन असांजे पिछले 7 सालों से लंदन स्थित इक्वाडोर के दूतावास में शरण लेकर वहीं अपना डेरा जमाए हुए थे।

लंदन की मेट्रोपोलिटन पुलिस ने बताया कि जूलियन असांजे को फिलहाल हिरासत में दूतावास से हिरासत में ले लिया गया है। जूलियन असांजे को वेस्टमिन्सटर मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया जाएगा।

क्या है जूलियन असांजे पर आरोप

  • विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे ने साल 2010 में बड़ी संख्या में अमेरिका के गोपनीय दस्तावेजों को सार्वजनिक कर दिया था।
  • इस दौरान जूलियन असांजे ने स्वीडन में प्रत्यर्पण से बचने के लिए 2012 में इक्वाडोर के दूतावास में शरण ले ली थी। बाद में स्वीडन ने असांजे पर से यौन अपराध से जुड़े मामले को हटा दिया।
  • इसके बावजूद जूलियन असांजे दूतावास में ही टिके रहे क्योंकि जमानत का मामला खत्म हो जाने की वजह से लंदन में उनपर गिरफ्तारी की तलवार लटकी रही थी। बीते साल 12 दिसंबर से उन्हें इक्वाडोर की नागरिकता मिली।