इसी साल आएगा दुनिया के सबसे तेज पैसेंजर प्लेन, कम किराए के साथ आधे समय में पूरी होगी फ्लाइट

नई दिल्‍ली। 6 हजार किलोमीटर की दूरी को तय करने में एक विमान को करीबन 7-8 घंटे का समय लगता है। लेकिन, विमान बनाने वाली कंपनी बूम ने अपने नए यात्री विमान बनाने पर काम शुरू कर दिया है। इस विमान की मदद से 6 हजार किलोमीटर की दूरी सिर्फ 3 घंटे में तय कर ली जाएगी।

कंपनी ने अपने नए मैक2.2 सुपरसोनिक विमान को ओवरट्योर नाम दिया है। उम्मीद है कि इस साल के अंत तक यह विमान आसमान में उड़ान भ लेगा। इसके साथ कंपनी ने इसका एक आधे हिस्से जितना बड़ा प्रोटोटाइप भी बनाया है, जो ओवरट्योर की उड़ान से पहले ही दुनिया के सामने लाया जाएगा।

कंपनी के मुताबिक, ओवरट्योर एक 55 सीटों वाला यात्री विमान होगा। इसकी रफ्तार आवाज से दोगुनी होगी और यह विमान 8336.4 किलोमीटर की दूरी तय करने में सक्षम है। लंदन से न्यूयॉर्क की दूरी इस विमान के जरिए 3 घंटे 50 मिनट में पूरी की जा सकेगी। मौजूदा समय में यह दूरी तय करने पर 8 घंटे से ज्यादा का समय लगता है।

कंपनी का दावा है कि इस प्लेन का किराया भी ज्यादा नहीं होगा। इस विमान में यात्रा करने के लिए यात्रियों को उतने पैसे ही खर्च करने पड़ेंगे, जितने बिजनेस क्लास की टिकट पर खर्च करने पड़ते हैं। कंपनी का कहना है कि हम सभी तक इस विमान की पहुंच बनाना चाहते हैं। 3 इंजन वाला ये विमान दूसरे सुपरसोनिक प्लेन्स से 30 गुना कम आवाज करेगा।

इससे पहले ब्रिटेन और फ्रांस द्वारा मिलकर तैयार किया गया कॉन्कॉर्ड दुनिया का पहला सुपरसोनिक यात्री विमान था। 1976 में पहली उड़ान के बाद इस विमान ने 27 सालों तक अपनी सेवाएं दी। कॉनकार्ड एक घंटे में 2180 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता था। इस प्लेन में 92 से लेकर 128 यात्री एक बार में यात्रा कर सकते थे।