जानिए कौन-कौन से पत्ते होते हैं आपके सेहत के लाभदायक!
सेहत

जानिए कौन-कौन से पत्ते होते हैं आपके सेहत के लाभदायक!

आज के दौर में हेल्थ प्रॉबलम्स इतनी बढ़ चुकी है, जिसका अंदाज़ा लगाना भी मुश्किल है। अगर हम अपने आस पास नज़र दौड़ाए तो हमारे चारो तरफ कोई न कोई डायबिटीज़, कैंसर और पेट की परेशानी से जूझ रहा होता है। हमनें हमेशा हमारे बड़े बुजुर्ग से ये सुना है कि फलों को खाया करो शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं और ये बात कहीं न कहीं सच भी है कि जितनी जल्दी दवाइयां असर नहीं करती उतनी की जल्दी फल असर करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि फलों से ज्यादा उनके पत्ते भी हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं? तो आज हम आपको बताएंगे कि कौन-कौन से पत्ते हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में हमारी मदद करते हैं। 

source-google

पपीते के पत्ते के फायदे

पपीते के पत्तों (Papaya Leaves) की अगर बात करें तो ये बड़ी से बड़ी बीमारियों (Dieases) के लिए भी बहुत फायदेमंद है। पपीते के पत्ते (Papaya Leaves) का जूस पीने से खून में प्लेटलेट्स बढ़ता है। पपीते के पत्तों में और भी ऐसे गुण हैं जो रोगों से लड़ने में मदद करते हैं। आइए जानते हैं इसके लाभ….

source-google

 डेंगू और मलेरिया

बदलते सीजन की वजह से कई नई बीमारियां  जन्म लेती हैं जैसे डेंगू, मलेरिया, चिकनगूनिया आदि। जिसका असर सीधा-सीधा आम जनता पर पड़ता है। इन बीमारियों का इलाज डॉक्टर्स के पास होता तो है, लेकिन वो कब तक ठीक होगी इसकी गारंटी कोई डॉक्टर नहीं देता। पपीते के पत्तों का जूस डेंगू, मलेरिया जैसी कई बड़ी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। इसमें पाए जाने वाले अनेक गुण खून में प्लेटलेट्स को बढ़ता है।

source-google

डायबिटीज़

अगर आप डायबिटीज़ पेशेंट हैं तो आपको पपीते के पत्ते का जूस पीना चाहिए। ये जूस  ब्लड शुगर (Blood Sugar) का लेवल कम करता है। इसलिए डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों को रोजाना थोड़ी मात्रा में पपीते के पत्तों का जूस पीना चाहिए।

source-google

कैंसर से लड़ने में करता है मदद

अगर आपको कैंसर जैसी गंभीर बीमारी है तो आप पपीते के पत्ते का जूस पीयें। ये आपकी बॉडी में ट्यूमर (Tumor) को विकसित करने से रोकता है। इसके अलावा पपीते में कैंसर रोधी गुण मौजूद होते हैं, जो क्रॉनिक मायलोमोनोसाइटिक ल्यूकीमिया (Chronic myelmonocytic leukemia) को भी रोकते हैं।

source-google

पेट के लिए हैं फायदेमंद

अगर आपको पेट सम्बन्धी बीमारियां है तो आप पपीते के पत्ते का जूस पीये। क्योंकि इस जूस में पापेन, कायमोपापेन, प्रोटीज और एमिलेज एन्ज़इम्स मौजूद होते हैं। ये जूस पाचन शक्ति को बेहतर करता है साथ ही पेट में गैस की समस्या को भी दूर रखता है।

source-google

गिलोय के पत्ते के फायदे

आप सभी ने गिलोय के पत्ते तो देखें ही होंगे। गिलोय के पत्ते पान के पत्तों की तरह ही बड़े बड़े होते हैं. गिलोय के पत्ते देखने में जितने बड़े होते हैं उतने ही लाभकारी भी होते हैं। गिलोय के पत्तों में कैल्शि‍यम, प्रोटीन और फॉस्फोरस पाया जाता है। इसके अलावा इसके तनों में स्टार्च की भी अच्छी मात्रा होती है। गिलोय का इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों में किया जाता है। ये एक बेहतरीन पावर ड्रिंक भी है। आइए जानते हैं गिलोय के फायदे…

source-google
  • अगर आपको एनीमिया है तो गिलोय के पत्तों का इस्तेमाल करना आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा। गिलोय खून की कमी दूर करने में सहायक है। इसे घी और शहद के साथ मिलाकर लेने से खून की कमी दूर होती है।
  • पीलिया के मरीजों के लिए गिलोय लेना बहुत ही फायदेमंद है। इसके लिए आप पत्तों का चूरन बना सकते हैं या फिर पत्तों को उबालकर उसका पानी पी सकते हैं। इससे पीलिया जल्द ही ठीक हो जाता है।
  • कुछ लोगों के पैरों में जलन होती है और कुछ ऐसे भी होते हैं जिनकी हथेलियां हमेशा गर्म बनी रहती हैं। तो उन लोगों को  गिलोय की पत्त‍ियों को पीसकर उसका पेस्ट सुबह-शाम पैरों पर और हथेलियों पर लगाएं। अगर आप चाहें तो गिलोय की पत्त‍ियों का काढ़ा भी पी सकते हैं।
  • अगर आपके कान में दर्द है तो भी गिलोय की पत्त‍ियों का रस निकाल लें। इसे हल्का गुनगुना कर लें। इसकी एक-दो बूंद कान में डालें। इससे कान का दर्द ठीक हो जाएगा।
  • पेट से जुड़ी कई बीमारियों में गिलोय का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। इससे कब्ज और गैस की प्रॉब्लम नहीं होती है और पाचन क्रिया भी दुरुस्त रहती है।
  • अगर बहुत दिनों से बुखार है और तापमान कम नहीं हो रहा है तो गिलोय की पत्त‍ियों का काढ़ा पीना फायदेमंद रहेगा।
source-google

नीम के पत्ते

नीम को सभी बीमारियों का रामबाण माना जाता है. क्योंकि नीम में इतने गुण हैं कि ये कई तरह के रोगों के इलाज में काम आता है। यहां तक कि इसको भारत में ‘गांव का दवाखाना’ कहा जाता है। नीम के अर्क में मधुमेह यानी डायबिटिज, बैक्टिरिया और वायरस से लड़ने के गुण पाए जाते हैं। नीम के तने, जड़, छाल और कच्चे फलों में शक्ति-वर्धक और मियादी रोगों से लड़ने का गुण भी पाया जाता है। इसकी छाल खासतौर पर मलेरिया और त्वचा संबंधी रोगों में बहुत उपयोगी होती है।

source-google
  • नीम एक बहुत अच्छा कंडीशनर है। इसकी पत्तियों को पानी में उबालकर उसके पानी से बाल धोने से रूसी और फंगस जैसी समस्याएं दूर हो जाती हैं।
  • नीम की दातुन, ब्रश की तुलना में ज्यादा लोकप्रिय थी।
  • खून साफ न होने की वजह से समय-समय पर फोड़े हो जाते हैं. ऐसे में नीम की पत्ती को पीसकर प्रभावित जगह पर लगाने से फायदा होगा। साथ ही इसके पानी से चेहरा साफ करने पर मुंहासे नहीं होते हैं।
source-google

पीपल के पत्ते के फायदे

आमतौर पर सभी लोग पीपल के पेड़ की पूजा करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि पीपल के पत्ते हमारी सेहत के लिए कितने फायदेमंद होते हैं। आइए जानते हैं इसके लाभ…

source-google
  • पीपल के पत्ते को पानी में उबाल लें और हर तीन घंटे में इसका सेवन करें। इससे हार्ट प्रॉब्लम दूर होती है।
  • पीपल के छाल के अंदर के हिस्से को निकालकर सूखा ले। जिसके बाद चूरन बना बना कर पानी के साथ ले जिससे अस्थमा पेशेंट को आराम मिल सकता है।
  • बदलते मौसम की वजह से सर्दी-जुखाम होना स्वाभाविक है। इसके लिए पीपल के पत्तों को दूध के साथ उबाल ले और चीनी डालकर पीये. जिससे आपको काफी आराम मिलेगा।
  • पीलिया एक ऐसी बीमारी है, जो गंदे पानी की वजह से होती है। अगर आपको पीलिया के छुटकारा पाना है तो पीपल के पत्ते के रस में मिश्री मिलाकर पीयें।
source-google
4 November, 2019

About Author

Twinkle98