जानिए कैसे रखे छोटे बच्चों का कड़कड़ाती सर्दी में ध्यान!
सेहत

जानिए कैसे रखे छोटे बच्चों का कड़कड़ाती सर्दी में ध्यान!

धीरे-धीरे ठण्ड का मौसम आ रहा है और ठण्ड में सबसे पहले सर्दी और बीमारी का शिकार होते हैं छोटे बच्चे और घर के बुजुर्ग। क्योंकि छोटे बच्चों का इम्यून सिस्टम ज्यादा स्ट्रांग नहीं होता है और जो बड़े बुजुर्ग होते हैं उनकी स्वास्थ अवस्था भी कमज़ोर हो जाती है। जिससे उनकी बॉडी पर बैक्टेरिया जल्दी अटैक करते हैं। इसलिए हम आपको आज बताएंगे कि आप किस तरीके से छोटे  बच्चोँ और घर के बुजुर्ग़ का इस सर्दी में ध्यान रख सकते हैं।

source-google

गुड़: गुड़ जितना खाने में मीता होता है, उतना ही वो हमारे सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। आइए जानते है गुड़ के लाभ-

source-google
  • सर्दी में ख़ासी जुखाम होना आम बात है। लेकिन अगर ये छोटे बच्चों को हो या बड़े बुजुर्ग को हो तो वो इनको झेल नहीं पाते हैं क्योंकि उनका इम्यून सिस्टम वीक होता है। इसलिए ख़ासी जुखाम से बचने के लिए आप गुड़ का सेवन कर सकते हैं क्योंकि गुड़ गर्म होता है और शरीर को गर्म रखने में मदद करता है।
  • आजकल अस्थमा होना आम हो गया है। छोटे से छोटे बच्चे भी अस्थमा का शिकार हो रहे हैं। गुड़ एक एंटी एलर्जिक तत्व है। जो की अस्थमा को रोकता है। अगर आप चाहे तो तिल के लड्डू में गुड़ मिलाकर बना सकते हैं और इसका सेवन भी कर सकते हैं।
  • अगर आपको खाना खाने के बाद मीठा खाने का शौक तो आप गुड़ खा सकते हैं। इससे आपका पाचन तंत्र भी ठीक रहेगा और साथ ही आपका मुंह भी मीठा हो जायेगा।
source-google

हल्दी वाला दूध: दूध पीना सेहत के लिए अच्छा होता है लेकिन हल्दी वाला दूध सर्दी में पीना हमारे शरीर के लिए काफ़ी अच्छा होता है। ये दूध हमारे शरीर में गर्माहट को पैदा करता है। इसके अलावा भी ये शरीर से काफी बीमारियों को भी दूर करता है। जानते हैं इसके लाभ-

source-google
  • यह कैन्सर कोशिकाओं से डीएनए को होने वाले नुकसान को रोकता है
  • जिनको नींद नहीं आती है वो ये दूध पीयें। हल्दी वाला गर्म दूध ट्रिप्टोफैन नामक अमीनोअम्ल बनाता है जिससे सुकून की नींद के आती है।
  • यह रीढ़ की हड्डी और शरीर में जोड़ों को मजबूत बनाता है।
source-google

मुलेठी: मुलेठी का सेवन तो सर्दी जुकाम में किया जाता है। अगर आप बच्चों को इसका सेवन करवाएं तो उनकी सर्दी जल्द की छूमंतर हो सकती है। लेकिन इससे और भी फायदे हैं। आइए जानते हैं-

source-google
  • अगर आपके बाल झड़ रहे हैं और त्वचा की चमक चली गई है तो मुलेठी का चूर्ण बनाकर आंवले के साथ लगाएं।
  • पीरियड्स के दौरान अगर आप किसी तरह के दर्द, अनियमितता या अधिक रक्त स्त्राव से परेशान हैं तो मुलेठी का सेवन करें।
  • अगर आपको अल्सर की शिकायत है तो एक गिलास दूध में एक चम्मच मुलेठी का चूर्ण मिलाकर दिन में दो से तीन बार पीयें।
source-google

छुहारे का दूध: इस तरीके से हल्दी वाला दूध सेहत के लिए अच्छा होता है ठीक उसी तरह छुहारे का दूध भी शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता हैं। आइए जानते हैं इसके लाभ-

source-google
  • छुहारे और दूध दोनों ही कैल्शियम के मुख्य स्रोत है इसलिए दूध के साथ छुहारा खाने से शरीर को पर्याप्त कैल्सियम मिलता है जिस से हड्डियाँ और दांत मजबूत बनते हैं।
  • ये शरीर में गर्मी पैदा करता है।
  • अगर आपके मसूड़ों से खून या पीव निकलता है तो रोजाना 2 से 4 छुहारो को दूध में उबालकर पियें। इस से मसूड़ों की ये समस्या दूर हो जायेगी।
  • ये शरीर की कमजोरी को भी दूर करता है।
source-google
5 November, 2019

About Author

Twinkle98