अगर लेते है आप भी ‘खर्राटे’ (Snoring) तो अपनाए ये घरेलू उपाय!
सेहत

अगर लेते है आप भी ‘खर्राटे’ (Snoring) तो अपनाए ये घरेलू उपाय!

दिन भर काम के बाद रात को चैन की नींद सोने का मजा ही कुछ और है। ऐसे में आपका साथी जोर-जोर से खर्राटे लेने लगे तो सारा मजा ही किरकिरा हो जाता है। खर्राटे यानी Snoring ये कोई बीमारी नहीं है। ये एक आदत है। जो कब पड़ जाए ये आपको पता नहीं चलता। जब आप सोते हैं तब आप खर्राटे लेते है। ये आपको पता नहीं चलता, लेकिन जो आपके बगल में सोता है उसकी नींद ज़रूर ख़राब हो जाती है। फिर चाहे वो कितनी भी कोशिश कर लें आपके खर्राटे बंद करवाने की। उसकी सारी कोशिश बेकार ही साबित होती है।

source-google

क्यों आते है खर्राटे

सोते वक्त सांस लेने के साथ जब तेज आवाज और वाइब्रेशन होती है उसे खर्राटे कहते है। खर्राटे (Snoring) की आवाज तब पैदा होती है, जब हवा का बहाव गले की त्वचा में स्थित ऊतकों में कंपन पैदा कर देता है। खर्राटे सांस अंदर लेते समय आते हैं। कई बार खर्राटे हेल्थ (Health Problem) संबंधी परेशानियों की ओर इशारा करते हैं। जिसे अक्सर लोग नजरअंदाज कर देते हैं। तो आज हम आपको बातएंगे कि कैसे आप अपने खर्राटे (Snoring) को बंद कर सकते हैं।

source-google

पुदीने का तेल (Peppermint Oil)

पुदीने में कई ऐसे तत्व मौजूद होते हैं जो गले और नासाछिद्रों की सूजन को कम करने का काम करते हैं। इससे सांस लेना आसान हो जाता है। सोने से पहले पिपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदों को पानी में डालकर उससे गरारे कर लें। ये कुछ दिनो तक करें। इसके बाद आपको फर्क भी महसूस होगा।

source-google

हल्दी (Turmeric) का इस्तेमाल

हल्दी (Turmeric) में एंटी-सेप्ट‍िक और एंटी-बायोटिक गुण होते हैं। इसके इस्तेमाल से नासा-द्वार साफ हो जाता है जिससे सांस लेना आसान हो जाता है। रोज रात को सोने से पहले दूध में हल्दी पकाकर (हल्दी वाला दूध) पीने से फायदा होगा।

source-google

इलायची (Cardamom) का करे इस्तेमाल

इलायची (Cardamom) श्वसन तंत्र को खोलने का काम करती है। इससे सांस लेने की प्रक्रिया सुगम होती है। सोने से पहले इलायची के कुछ दानों को गुनगुने पानी के साथ मिलाकर पीने से समस्या में राहत मिलेगी।

source-google
3 December, 2019

About Author

Twinkle98