Amitabh Bachchan हुए हॉस्पिटलाइज्ड, सेलेब्स को कानों कान कोई ख़राब नहीं
बॉलीवुड Talkies

Amitabh Bachchan हुए हॉस्पिटलाइज्ड, सेलेब्स को कानों कान कोई ख़राब नहीं

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) मंगलवार को नानावती अस्पताल (Nanavati Hospital) में सुबह 3 बजे एडमिट हुए हैं। बताया जा रहा है कि बिग बी (Big B) अपने रूटीन चेकउप के लिए एडमिट हुए है। इस बारे में बॉलीवुड के सेलेब्रिटीस को कोई भनक तक नहीं लगी। अमिताभ बच्चन को 1 से 2 दिन तक हॉस्पिटल में लग सकते हैं और रविवार को डिस्चार्ज हो सकते है।

source-google

सुबह 3 बजे हुए एडमिट

बिग बी (Big B) मंगलवार को सुबह 3 बजे एडमिट हुए हैं। इस बात को काफी सीक्रेट रखा गया है और किसी को वहां जाने भी नहीं दिया जा रहा है। इसे रूटीन चेकअप बताया जा रहा है लेकिन सवाल ये उठता है कि अगर ये रुटीन चेकअप है तो सुबह 3 बजे क्यों अस्पताल ले जाया गया। हालाकिं अस्पताल से किसी भी तरह का ऑफिशियल हेल्थ बुलेटिन नहीं आया है।

source-google

रुटीन चेकअप की क्या है वजह

1982 में कुली (Coolie) की शूटिंग के दौरान बिग बी (Big B) को चोट लगी थी, जिसमे उनका काफी खून बह गया था। डॉक्टर्स में उनको क्लीनिकल डेड भी घोषित कर दिया था। बाद में उनको 200 डोनर्स ने अपना खून डोनेट किया जिससे ये खतरे से बहार आ गए थे। लेकिन जिसके बाद उनको एक खतरनाक बीमारी ने घेर लिया था।

source-google

बिग बी को क्या थी बीमारी

अमिताभ (Amitabh Bachchan) में अपने एक इंटरव्यू में बताया कि 200 डोनर्स में से एक डोनर को ‘हेपेटाइटिस बी’ (Hepatitis B) था। उसी के जरिए ये मेरे शरीर में पंहुचा। साल 2000 तक में ठीक था लेकिन एक चेकअप के दौरान मुझे ये पता चला कि मेरा लिवर इन्फेक्टेड है। बिग बी का लिवर सिर्फ 25% काम कर रहा है और बाकी का 75% ख़राब हो चुका है।

source-google

अमिताभ बच्चन के प्रोजेक्ट्स

अगर बिब बी (Big B) के काम की बात करें तो वे बहुत व्यस्त है। बिग बी अपनी 4 फिल्मों को लेकर चर्चे में हैं। जिसनें ‘गुलाबो-सीताबो’ (Gulabo Sitabo), ‘ब्रम्हास्त्र’ (Brahmastra), ‘झुंड’ (Jhund ) और ‘चेहरे’ (Chehre) जैसी फिल्में शामिल हैं। माना जा रहा है कि ‘गुलाबो-सीताबो’ (Gulabo Sitabo) में बिग बी आयुष्मान खुराना (Ayushmann Khurrana) के साथ नज़र आएंगे तो वहीं ‘ब्रम्हास्त्र’ (Brahmastra) में आलिया भट्ट(Alia Bhatt), रणबीर कपूर(Ranbir Kapoor) और मॉनी रॉय (Mouni Roy) नज़र आ सकते हैं।

source-google
18 October, 2019

About Author

Ashish Jain