दिल्ली में कांग्रेस-AAP के गठबंधन को लेकर फिर बढ़ा सस्पेंस, शीला दीक्षित बोलीं- इंतजार करो

नई दिल्ली: दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन होगा की नहीं इस बात ने सबको कन्फूज किया है। अब तक तस्वीरें साफ नहीं हो पाई है, लेकिन दिल्ली की पूर्व सीएम और दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष ने अभी और इंतजार करने की बात कही है। शीला दीक्षित ने रविवार को साफ किया कि आज शाम या कल तक खुद पार्टी आपको क्लीयर कर देगी की गठबंधन हो रहा है कि नहीं।

क्या कहा दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित ने ?

  • गठबंधन को लेकर शीला दीक्षित ने सस्पेंस को और बढ़ा दिया है। शीला दीक्षित ने कहा है कि इस बारे में आज शाम या कल तक सच सबके सामने आ जाएगा।
  • शीला दीक्षित ने कहा कि इस बारे में आधिकारिक बयान जारी किया जाएगा। बता दें कि पिछले काफी समय से आप और कांग्रेस में गठबंधन के कयास लग रहे हैं।
  • हालांकि दोनों पार्टियों ने अभीतक इस बारे में कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है। शनिवार को देर रात राज्य कांग्रेस कमिटी की बैठक पार्टी हाईकमान से हुई थी।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने गठबंधन के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह सिर्फ कुछ घंटों की बात है और इस पर आपको सूचना मिल जाएगी, आज शाम तक या फिर कल तक। एक आधिकारिक सूचना जारी कर दी जाएगी। एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि गठबंधन पर शीला दीक्षित की बात मान ली गई है और राहुल गांधी गठबंधन नहीं करने का मन बना चुके हैं।

अरविंद केजरीवाल ने कई बार दिए गठबंधन करने के ऑफर

  • दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल अपनी तरफ से बार-बार बीजेपी को हराने के लिए गठबंधन का ऑफर देते रहे हैं।
  • केजरीवाल ने दिल्ली के साथ पंजाब और हरियाणा में भी कांग्रेस को गठबंधन का ऑफर दिया है।
  • दिल्ली कांग्रेस में भी गठबंधन को लेकर एक राय नहीं है। पी सी चाको जहां आप से गठबंधन को लेकर जोर दे रहे हैं तो शीला दीक्षित इसके खिलाफ हैं।
  • पहले अजय माकन भी गठबंधन के खिलाफ थे, लेकिन पिछली मीटिंग में इन्होंने इसका समर्थन किया।

गठबंधन पर सभी पक्षों को सुनने के बाद आखिरी फैसला राहुल गांधी पर छोड़ दिया गया है। अब इस पर आखिरी फैसला राहुल क्या लेते हैं, यह जानने की उत्सुकता दिल्ली ही नहीं देश के दूसरे दिग्गज नेता भी कर रहे हैं।