अंबानी का ड्राइवर बनना चाहते हैं तो देनी होगी ये कठिन परीक्षा, लाखों में मिलती है सैलरी

  • मुकेश अंबानी या उनके परिवार के ड्राइवरों को मिलती है लाखों में सैलरी
  • चयन से पहले काफी कठिन परीक्षााओं से गुजरते हैं अंबानी परिवार के हर एक ड्राइवर

नई दिल्ली। महंगाई के जमाने में हर इंसान अमीर बनना चाहता है। अब भला नौकरी एशिया के सबसे अमीर शख्स मुकेश अंबानी की हो तो, हर कोई इस नौकरी को पाना चाहेगा। क्या आपने कभी सोचा है कि मुकेश अंबानी के ड्राइवरों का चयन कैसे होता है और उनको कितनी सैलरी मिलती है? चलिए आज इसी बारे में हम आपको बताते हैं।

ऐसे होता है ड्राइवर का चयन

  • एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी के ड्राइवर का चयन कई कठिन परीक्षाओं के बाद होता है। इसके लिए रिलायंस ग्रुप प्राइवेट कंपनियों को बकायदा कांट्रैक्ट देती है। यह कंपनियां ड्राइवरों का चयन करती हैं।
  • चयन प्रक्रिया के दौरान सबसे पहले ड्राइवर के क्रिमिनल बैकग्राउंड की जांच की जाती है। कोई भी क्रिमिनल बैकग्राउंड न मिलने पर यह कंपनियां खुद ड्राइवर को ट्रेनिंग देती है।
  • इसके बाद ड्राइवर को कई तरह की कठिन परीक्षाओं का सामना करना पड़ता है। इस पूरी प्रक्रिया के बाद ही ड्राइवर को नियुक्त किया जाता है।

कितनी है अंबानी के ड्राइवर की सैलरी

  • कठिन परीक्षाओं के दौर से गुजरने के बाद मुकेश अंबानी के ड्राइवर को नियुक्ती मिलती है। अंबानी परिवार के ड्राइवरों की सैलरी हजारों में नहीं बल्कि लाखों में हैं।
  • एक रिपोर्ट के मुताबिक, मुकेश अंबानी के ड्राइवर को सालाना 24 लाख रुपए की सैलरी दी जाती है। यानि हर महीने 2 लाख रुपए बतौर सैलरी अंबानी के ड्राइवर को मिलती है।

लग्जरी लाइफ जीता हैं अंबानी परिवार

अंबानी परिवार भारत में अपनी रॉयल लाइफ के लिए मशहूर है। फिर चाहे अंबानी परिवार का घर एंटीलिया हो या फिर हाल ही में अंबानी परिवार की बेटी ईशा अंबानी और बेटे आकाश अंबानी की शादी। मुकेश अंबानी ने अपने बच्चों की शादी में करोड़ों रुपए खर्च किए। एक अनुमान के मुताबिक, ईशा अंबानी की शादी में 720 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे।