युवराज ने क्रिकेट को कहा अलविदा, वर्ल्ड कप में 6 बॉल पर 6 छक्के मारकर दुनिया को किया था हैरान

नई दिल्ली: इंग्लैड में खेले जा रहे वर्ल्ड कप 2019 के बीच भारतीय फैंस के लिए बुरी खबर सामने आई है। टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज और भारत को 2011 में विश्वविजेता का खिताब दिलाने में अहम रोल निभाने वाले युवराज सिंह ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट(Retirement from International Cricket) को अलविदा(Yuvraj singh retirement) कह दिया है।

Image result for Yuvraj singh photos collage
Source-Google

37 साल के युवराज सिंह ने मुंबई में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान इसकी घोषणा की (Yuvraj singh retirement) है। बताया जा रहा है कि युवराज सिंह 2019 क्रिकेट वर्ल्ड कप में खेलना चाहते थे। लेकिन खराब फॉर्म और फिटनेस के कारण उनका यह सपना अधूरा रह गया। इससे पहले BCCI के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि युवराज इंटरनेशनल और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास(Retirement from International Cricket) लेने के बारे में सोच रहे हैं।

3rrAWH1B0D.jpg
Source-Google

IPL में मुंबई इंडियंस टीम का रहे हिस्सा

युवराज सिंह इस साल आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेले थे, लेकिन उन्हें अधिक मौके नहीं मिले। युवी ने इस साल आईपीएल में मुंबई इंडियंस की तरफ से 4 मैचों में कुल 98 रन बनाए। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर 53 रन रहा।

Image result for Yuvraj singh first match kenya
Source-Google

युवराज ने कब खेला था अपना आखिरी वनडे और टेस्ट मैच ?

37 वर्षीय युवराज सिंह ने भारत के लिए अपना आखिरी वनडे मैच 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। युवी ने अपना आखिरी टी-20 मैच 1 फरवरी 2017 को इंग्लैंड के खिलाफ खेला। जबकि आखिरी टेस्ट मैच दिसंबर 2012 में इंग्लैंड के ही खिलाफ खेला था।

Image result for Yuvraj singh first test match photo
Source-Google

केन्या के खिलाफ किया था इंटरनेशनल करियर का आगाज

  • युवराज सिंह ने अपने इंटरनेशनल करियर का आगाज 2000 में केन्या के खिलाफ किया था और 2003 के वर्ल्ड कप में भी दमदार प्रदर्शन किया था।
Source-Google
  • ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए मशहूर युवराज सिंह ने 2007 के टी-20 वर्ल्ड कप में भी अपना अहम योगदान दिया था। इसी सीरीज में उन्होंने 6 गेंदों पर 6 छक्के लगाकर सभी का दिल भी जीता था।
Image result for Yuvraj singh first test match photo
Source-Google

यह भी पढ़े: खून की उल्टी के बाद भी युवराज ने नहीं छोड़ा मैदान, कहा- हर हाल में देश को वर्ल्ड कप जीताना है https://newsup2date.com/sports/some-records-of-yuvraj-singh/

वहीं, 2011 के विश्वकप में जब भारत चैंपियन बना था तो भला युवराज सिंह के योगदान को कोई कैसे भूल सकता है जब कैंसर जैसी घातक बीमारी से लड़ते हुए और खून की उल्टियां करते हुए उन्होंने भारत को वर्ल्ड कप दिलाया था।