बसपा के विधायको ने बढ़ाई मायावती की चिंता,मायावती ने कांग्रेस को बताया धोखेबाज
ब्रेकिंग

बसपा के विधायको ने बढ़ाई मायावती की चिंता,मायावती ने कांग्रेस को बताया धोखेबाज

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश में जनाधार खोने के बाद अब बसपा सुप्रीमों मायावती की पार्टी राजस्थान में भी जनाधार खोती हुई नजर आ रही है। खबर है कि बसपा के 6 विधायक कांग्रेस में शामिल होंगे, जिसके बाद मायावती की चिंता साफ बढ़ती नज़र आ रही है। मायावती ने इस मामले को लेकर ट्वीट भी किया, उन्होंने लिखा कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने एक बार फिर बीएसपी के विधायकों को तोड़कर गैर-भरोसेमन्द और धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है। यह बीएसपी मूवमेन्ट के साथ विश्वासघात है जो दोबारा तब किया गया है जब बीएसपी वहाँ कांग्रेस सरकार को बाहर से बिना शर्त समर्थन दे रही थी।

source-twitter

कांग्रेस अपनी कटु विरोधी पार्टी/संगठनों से लड़ने के बजाए हर जगह उन पार्टियों को ही सदा आघात पहुंचाने का काम करती है जो उन्हें सहयोग/समर्थन देते हैं। कांग्रेस इस प्रकार एससी, एसटी,ओबीसी विरोधी पार्टी है तथा इन वर्गों के आरक्षण के हक के प्रति कभी गंभीर व ईमानदार नहीं रही है।

source-twitter

मायावती इतने पर भी नहीं रुकी,उन्होंने आगे भी लिखा-.कांग्रेस हमेशा ही बाबा साहेब डा भीमराव अम्बेडकर व उनकी मानवतावादी विचारधारा की विरोधी रही। इसी कारण डा अम्बेडकर को देश के पहले कानून मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। कांग्रेस ने उन्हें न तो कभी लोकसभा में चुनकर जाने दिया और न ही भारतरत्न से सम्मानित किया। अति-दुःखद व शर्मनाक।

source-twitter

उनके इस ट्वीट के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी जवाब दिया है,उन्होंने कहा कि “कांग्रेस धोखेबाज है, बसपा से 6 विधायक टूट गए”: उनसे ऐसी प्रतिक्रिया की उम्मीद है। विधायकों ने राज्य की स्थिति और लोगों की भावनाओं पर विचार किया, यही कारण है कि वे हमारे साथ शामिल हुए, हमने उन पर कोई दबाव नहीं डाला।

source-google
17 September, 2019

About Author

Ashish Jain