USA ने चीन पर लगाया प्रतिबंध, सरकारी अधिकारियों को नहीं मिलेगा वीजा
देश, ब्रेकिंग, विदेश

USA ने चीन पर लगाया प्रतिबंध, सरकारी अधिकारियों को नहीं मिलेगा वीजा

चीन ने शिनजियांग में धर्म और संस्कृति को मिटाने के लिए क्रूर, व्यवस्थित अभियान में दस लाख से अधिक मुसलमानों को जबरन हिरासत में लिया है। इस पर USA ने अमेरिकी शिनजियांग क्षेत्र में मुसलमानों के साथ हो रहे दुर्व्यवहार करने के कारण चीनी अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध(China Visa Restrictions) लगाया है। मंगलवार को शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम अल्पसंख्यकों के खिलाफ मानवाधिकारों के उल्लंघन करने पर अमेरिका ने 28 संस्थाओं और कंपनियों को ब्लैकलिस्ट करने के  बारे में सोचा है।

source-google

शिनजियांग के दमन अभियान को करें खत्म

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा कि ‘USA ने शिनजियांग में दमन के अपने अभियान को तुरंत समाप्त करने के लिए चीन के पीपल्स रिपब्लिक पर फोन किया, उन सभी को मनमाने ढंग से हिरासत में छोड़ दिया और एक अनिश्चित भाग्य का सामना करने के लिए चीन लौटने के लिए विदेश में रह रहे चीनी मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों के सदस्यों के साथ जबरदस्ती करने का प्रयास करना बंद कर दिया जाए।’

यह भी पढ़े: Swiss Bank ने भारत से शेयर ही अहम जानकारी, अब कसी जाएगी नकेल

source-ani

अमेरिकी विदेश मंत्री ने की घोषणा  

अमेरिकी विदेश मंत्री कहा कि ‘मैं घोषणा कर रहा हूं, चीनी सरकार और कम्युनिस्ट पार्टी के अधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध(China Visa Restrictions), जिनके लिए जिम्मेदार माना जाता है, या शिनजियांग, चीन में उइगर, कजाखस्तान या मुस्लिम अल्पसंख्यक समूहों के अन्य सदस्यों को नजरअंदाज करना, उन्हें नजरअंदाज करना या उनका दुरुपयोग करना।’

source-ani

चीन ने दिया जवाब

वही चीन का कहना है कि ‘अंतरराष्ट्रीय संबंधों को नियंत्रित करने वाले बुनियादी मानदंडों का गंभीर उल्लंघन किया गया है और बीजिंग के आंतरिक मामलों में वाशिंगटन पर मानवाधिकारों में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया है। हालांकि अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार, ट्रम्प प्रशासन ने पहले शक्तिशाली पोलित ब्यूरो के सदस्य शिनजियांग पार्टी के सचिव चेन क्वुआंगो के खिलाफ प्रतिबंधों पर विचार किया था।

source-google
9 October, 2019

About Author

Ashish Jain