विधानसभा भंग पर जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल का बड़ा बयान, कहा- सज्जाद लोन की सरकार बनती तो बेईमानी होती
देश, ब्रेकिंग

विधानसभा भंग पर जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल का बड़ा बयान, कहा- सज्जाद लोन की सरकार बनती तो बेईमानी होती

जम्मू-कश्मीर: विधानसभा भंग करने पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने बड़ा बयान दिया है। सत्यपाल मलिक ने कहा है कि दिल्ली की तरफ देखता तो सज्जाद लोन की सरकार बनानी पड़ती। मैं नहीं चाहता इतिहास में मुझे बेइमान इंसान के तौर पर याद किया जाए। इसलिए मैंने विधानसभा ही भंग कर दी।

सत्यपाल मलिक ने कहा कि सज्जाद लोन की सरकार बनती तो बेईमानी होती। अगर सज्जाद लोन की सरकार बनती तो मैं ईमानदार नहीं रहता। अब भले ही कोई मुझे गाली दे, मुझे उसकी परवाह नहीं है। बता दें, इससे पहले सत्यपाल मलिक ने कहा था कि महबूबा मुफ्ती ने उनसे कहा कि सत्यपाल भाई मेरे एमएलए तोड़े जा रहे हैं। उन्हें धमकाया जा रहा है, उन्हें एनआईए में बंद कराने की धमकी दी जा रही है। जवाब में मैंने कहा कि मैं आपकी बात से दिल्ली को अवगत करा दूंगा, लेकिन अच्छा होगा कि आप फलां-फलां लोगों को भी बता दें। जिसके बाद गवाही के तौर पर मैं बता सकता हूं कि तीन और लोगों को उन्होंने यह बताया था।

जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक बोले- सज्जाद लोन को मौका देकर मैं बेईमानी नहीं कर सकता था
साभार-गूगल

सत्यपाल मलिक ने आगे कहा कि यहां एक दूसर पक्ष भी था। सज्जाद लोन और भाजपा का गठबंधन। सज्जाद लोन भी कह रहे थे कि हमारे पास भी नंबर है। हमारे भी एमएलए को धमकाया जा रहा है। जिस प्रदेश में म्यूनिसिपैलिटी के चुनाव में जाने पर जान से मारने की धमकी दी जाती हो, पंचायत के चुनाव में वोट डालने वाले को जान से मारने की धमकी दी जाती हो, वहां क्या असेंबली में वोट देने के लिए आतंकी धमकी नहीं देंगे या कार्रवाई नहीं करेंगे।

27 November, 2018

About Author

[email protected]