मध्यप्रदेश: BJP में शामिल हुई साध्वी प्रज्ञा, दिग्विजय के खिलाफ लड़ सकती है चुनाव

  • BJP में शामिल हुई साध्वी प्रज्ञा, भोपाल से लड़ सकती है चुनाव
  • दिग्विजय सिंह और साध्वी प्रज्ञा होंगी आमने-सामने !
  • बीजेपी में शामिल होते ही बोली साध्वी प्रज्ञा- चुनाव लडूंगी और जीतूंगी

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के इस महासमर में सभी लोग अपने आप को राजनीतिक रंग में रंगना चाहते है। फिर दल कोई भी क्यों ना हो। बस राजनीति में एक्टिव होना चाहिए। एक ऐसी ही तस्वीर सामने आई है दिल्ली से करीब 770 किलोमीट दूर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से।

बैकफुट से फ्रंटफुट पर आई साध्वी प्रज्ञा

  • बीजेपी (BJP) के लिए अब तक बैकफुट में खेल रही साध्वी प्रज्ञा ने पूरी तरह फ्रंट फुट में खेलने का ऐलान कर दिया है।
  • बुधवार को साध्वी प्रज्ञा ने औपचारिक तौर पर बीजेपी (BJP) ज्वाइन कर ली है। साध्वी प्रज्ञा ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में बीजेपी की सदस्यता ले ली है।

इस समय माहौल ऐसा है कि कोई भी किसी ठोस कारण के बिना पार्टी ज्वाइन नहीं कर रहा है। साध्वी प्रज्ञाके साथ भी ऐसा ही है। बीजेपी(BJP) में शामिल हो जाए और किसी तरह का गिफ्ट ना मिले भला कैसे हो सकता है। माना जा रहा है कि सूबे की बीजेपी ने भोपाल से साध्वी को टिकट देने का मन बना लिया है, महज एक ऐलान होना बाकी है।

इस बात का अंजादा बीजेपी ज्वाइन करते ही साध्वी के अंदर दिखा जोश बयां कर रहा है। बीजेपी ज्वॉइन करने के बाद साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि चुनाव लडूंगी और जीतूंगी। उन्होंने कहा कि कोई चुनौती नहीं है मेरे लिए, मैं धर्म पर चलने वाली हूं। मैं शाम को वापस आ रहीं हूं। मेरे साथ जो कुछ भी हुआ वो भी बताऊंगी।

भोपाल सीट में किसके बीच होगी टक्कर

  • अब ये भी समझ लीजिए की भोपाल लोकसभा सीट अपने आप में अहम क्यों है। बता दें, कांग्रेस ने इस सीट से दिग्विजय सिंह को टिकट दिया है। और अब अगर साध्वी भी इसी सीट से बीजेपी के लिए लड़ाई लड़ेगी तो ये सियासी लड़ाई वाकई में देखने लायक होगी। इस बात की जानकारी तब मिल गई थी जब साध्वी ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि यदि संगठन का आदेश होगा तो वह ‘धर्मयुद्ध’ लड़ने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा था कि अभी तक मैं किंगमेकर की भूमिका में थी लेकिन अब यदि संगठन के आदेश पर किंग बनना पड़े तो वे इसके लिए तैयार हूं।
  • साध्वी प्रज्ञा ने दिग्विजय पर लगाए थे ये आरोप
  • साध्‍वी प्रज्ञा ने कहा था कि जिस दिग्विजय सिंह ने हिंदू धर्म को पूरे विश्व में बदनाम किया, भगवा ध्‍वज को आतंकवाद का रूप बताया, अध्‍यात्‍म और त्‍यागमय जीवन पर आक्षेप किए और राष्‍ट्रधर्म को कलंकित किया; उसके खिलाफ यदि मुझे चुनाव लड़ना पड़े तो पीछे नहीं हटूंगी।
  • कौन है साध्वी प्रज्ञा, कैसे सुर्खियों में आई
  • साध्वी प्रज्ञा मध्यप्रदेश के एक मध्यमवर्गीय परिवार से हैं। परिवारिक पृष्ठभूमि के चलते वे संघ व विहिप से जुड़ी और फिर बाद में संन्यास ले लिया। 2008 में हुए मालेगांव बम विस्फोट में उन्हें शक के आधार पर गिरफ्तार किया गया गया। हाल ही में वे दोषमुक्त हुई हैं।