राफेल पर लोकसभा में हंगामा जारी, राहुल गांधी बोले-अंबानी को डील में कौन लाया, जवाब दे सरकार

नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र का 15वां दिन भी काफी हंगामेदार दिख रहा है। राज्यसभा और लोकसभा दोनों ही जगह राफेल का मुद्दा गरमाया हुआ है। लोकसभा में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की सफाई के बाद राहुल गांधी ने फिर सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने पूछा कि सरकार यह बताए कि अनिल अंबानी को इस डील में कौन लेकर आया।

इससे पहले रक्षा मंत्री ने कहा है कि हम सवालों से नहीं भाग रहे हैं, बल्कि कांग्रेस तथ्यों से भाग रही है। मैं हर सवाल का जवाब देने को तैयार हूं। रक्षा मंत्री ने कहा कि देश को समझना होगा कि रक्षा सौदे गोपनीय होते हैं। हमारी सरकार जवाब देने से नहीं डरती। देश के चारों तरफ माहौल खतरनाक है, ऐसे में सरकार की प्राथमिकता सेना की मजबूती होनी चाहिए।

रक्षा मंत्री ने राफेल पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि हमें अपने पड़ोसी मुल्कों से खतरा है और हमें क्षेत्र में शांति रखनी होगी। उन्होंने कहा कि इसके लिए अपनी सेना को मजबूती देनी की भी जरूरत है ताकि हमारी सीमाएं सुरक्षित हो सकें।

उन्होंने कहा कि पहला राफेल विमान 2019 यानी डील के 3 साल के भीतर आ जाएगा जबकि कांग्रेस यह काम नहीं कर पाई। 2022 तक सभी विमान भारत आ जाएंगे। यूपीए के वक्त में 10 साल तक करार की प्रक्रिया तक पूरी नहीं हो पाई जबकि हमने 3 महीने में यह करके दिखाया है।

वो पार्टी सवाल कर रही है जिनका घोटालों का इतिहास रहा है- अनुराग ठाकुर

इससे पहले राफेल पर चर्चा के दौरान बीजेपी सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा कि राफेल पर वो लोग सवाल कर रहे हैं जिनकी परिवार और पार्टी का इतिहास घोटालों से पटा हुआ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कन्फ्यूज्ड नेता ने एएनआई की महिला पत्रकार पर सवाल उठाए जबकि उस पत्रकार ने प्रधानमंत्री मोदी से सभी जरूरी मुद्दे पर सवाल किए।

ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के समय रक्षा सौदों के जरिए पार्टी का फंड बढ़ाने की कोशिश होती आई है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों का नाम अगस्ता वेस्टलेंड घोटाले में आया वो आज घोटाले की बात कर रहे हैं। नेशनल हेराल्ड में देश के करोड़ों रुपये का टैक्स लूटने वाले हमसे सवाल पूछ रहे हैं।

‘न खाऊंगा न खाने दूंगा’, वालों की नाक के नीचे राफेल का घोटाला हुआ है-AAP

वहीं आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने राफेल पर चर्चा के दौरान कहा कि जो लोग कहते हैं कि ‘न खाऊंगा न खाने दूंगा’, उनकी नाक के नीचे राफेल का घोटाला हुआ है। उन्होंने कहा कि यह आम आदमी का पैसा हैं जहां किसान खुदकुशी कर रहे हैं, जहां नौजवान बेरोजगारी के मारे हैं, ऐसे में देश के 36 हजार करोड़ के घोटाले की खबर आती है तो देशवासियों को दुख होता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री चुनावी मोड में चले गए हैं और उन्हें सदन में आकर जवाब देना चाहिए।

सरकार सुप्रीम कोर्ट के सामने राफेल मामले में झूठ बोला है – खड़गे

कांग्रेस सांसद खड़गे ने कहा कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के सामने राफेल मामले में झूठ बोला है। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस बारे में सीएजी रिपोर्ट संसद में आने की बात की थी, जो सरासर झूठ है, पीएसी का अध्यक्ष में हूं लेकिन मेरे सामने कोई रिपोर्ट आजतक आई ही नहीं। खड़गे ने कहा कि हम सरकार के झूठ पकड़वाने के लिए मामले की जांच के लिए जेपीसी का गठन चाहते हैं। इस पर दोनों पक्षों के सांसदों के बीच बहस तेज हो गई है और हंगामा हो रहा है।