Oath Ceremony: उद्धव ठाकरे ने ली महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ, कौन है शिवसेना का चाणक्य
देश, ब्रेकिंग, राजनीति

Oath Ceremony: उद्धव ठाकरे ने ली महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ, कौन है शिवसेना का चाणक्य

Oath Ceremony: महाराष्ट्र में पिछले कई दिनों से सियासी संग्राम चल रहा था, जिसे आज ShivSena-NCP-Congress ने महा विकास अगाड़ी गठबंधन ने विराम दे दिया है। आखिरकार महाराष्ट्र के इतिहास में पहले बार शिवसेना का मुख्यमंत्री बना। इतना ही नहीं, शिवसेना के लिए ये दिन इसलिए भी खास रहा क्योंकि इस दिन पारिवारिक रांज के चलते राज ठाकरे और उद्धव ठाकरे के बीच विवाद चल रहा था जो कि आज के दिन खत्म हो गया है। वहीं पहले बार शिवसेना ने अपना मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के रुप में देखा है। बात दें कि बाल ठाकरे का एक सपना था कि महाराष्ट्र शिवसेना का मुख्यमंत्री हो, महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार हो, जिसे आज उद्धव ठाकरे से पूरा कर दिया है।

Source-google

एकनाथ शिंदे ने ली शपथ

उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण करने के बाद शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) ने भी शपथ ग्रहण की। एकनाथ शिंदे ने स्वास्थ्य, परिवार एवं कल्याण मंत्री (Minister of Health, Family and Welfare) के रुप में शपथ ग्रहण की है। बता दें कि इससे पहले एकनाथ सिंह ने विपक्ष के नेता की भूमिका निभाई थी, इतना ही नहीं, अभी कुछ दिनों पहले शिवसेना-NCP-कांग्रेस के नेताओं को एक साथ लाने में भी इन्होंने अहम भूमिका निभाई थी।

Source-google

अन्य मंत्रियों ने भी ली शपथ

उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे के बाद शिवसेना के सुभाष देसाई, NCP नेता जयंत राजाराम पाटिल, कांग्रेस पार्टी नेता छगन चंद्रकांत भुजबाल ने भी मंत्री पद की शपथ ग्रहण की।

Source-google

कौन है शिवसेना का चाणक्य

राजनीति हर किसी इंसान के बस की बात नहीं है। अगर हम बीजेपी के चाणक्य की बात करें तो BJP के चाणक्य गुजरात के शेर अमित शाह को कहा जाता है। जिन्होंने शनिवार को महाराष्ट्र में पूरी तरह से सियासी हवा बदल दी थी, और BJP की सरकार बना दी थी। लेकिन फिर महाराष्ट्र में सियासी हवा ने करवट ली, और शिवसेना ने BJP की सरकार महज 48 घंटों में गिरा दी। साथ ही गुरुवार को शिवसेना का पहला मुख्यमंत्री भी दिया। ऐसे में सवाल ये है कि शिवसेना का चाणक्य कौन है। तो बता दें कि शिवसेना का चाणक्य संजय राउत को बताया जा रहा है। जिन्होंने पूरी सत्ता को अपने दिमागी बल से हिलाकर रख दिया। इतना ही नहीं, जब NCP टूटी हुई नज़र आई तो शिवसेना के साथ NCP के विधायकों को भी वापस पार्टी में लाने का काम इन्होेंने ही किया था।

Source-google
28 November, 2019

About Author

Ashish Jain