गजनी विश्वविद्यालय में हुआ बम धमाका
ब्रेकिंग, विदेश

गजनी विश्वविद्यालय में हुआ बम धमाका

‘आतंकवाद’ क्या होता है, जब भी ये शब्द सुनते हैं, तो ज़हन में एक तस्वीर बनती है, जैसे मानों हाथों में एक बड़ा हथियार हो और काले कपड़े पहने एक हैवान आपकी ओर एक टूक देख रहा हो। उसकी आंखे इतनी लाल है जैसे मानों उसकी आंखों में ख़ून का सेलाव हो।

source-google

फिर ये मायने नहीं रखता है कि वो आंतकवादी आपके घर का हो या फिर विदेश की धरती पर हो, क्योंकि वो आखिरकार एक आंतकी ही है। सोमवार को अफगानिस्तान में गजनी विश्वविद्याल के पास एक बम धमाका हुआ।

गजनी विश्वविद्यालय के पास हुआ बम धमाका

इस बम धमाके में करीब 12 से अधिक लोगों की जान चली गई। जबकि कई लोग घायल हो गए। बता दें कि ख़बरों के मुताबिक PD3 शहर में हुए बम धमाके में आठ छात्राएं गंभीर रुप से घायल हो गई हैं, जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है।

source-ani

6 जांच अधिकारी हुए घायल

वहीं दूसरी ओर अफगान आंतरिक मंत्रालय के अधिकारियों ने पुष्टि की है कि 7 अक्टूबर को काबूल के क़ाराबाग जिले में तालिबान द्वारा आपराधिक जांच विभाग के एक सदस्य की हत्या कर दी गई थी। जिसकी तहकिकात करने लगी टीम के अधिकारी इस बम धमाके के शिकार हो गए हैं।

source-ani

फिलहाल घायल हुए अधिकारियों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। लेकिन ऐसे में सवाल ये है कि आखिरकार आतंकियों को मानवता से क्या लेना-देना है, साथ ही आखिर ये अपनी जान क्यों दाव पर लगाते हैं, इन्हें ऐसा कौन सा झूठ बोला जाता है, जिसके बाद ये जिहाद के नाम पर कत्लेआम मचाते हैं।

8 October, 2019

About Author

Ashish Jain