पूर्व डिप्टी सीएम के निजी सहायक ने की आत्महत्या
ब्रेकिंग

पूर्व डिप्टी सीएम के निजी सहायक ने की आत्महत्या

कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम जी परमेश्वर के निजी सहायक रमेश (पिकनिक में) ने बेंगलुरु के ज्ञान भारती इलाके में कथित रूप से आत्महत्या कर ली है।’ ये आत्महत्या तभी हुई है जब परमेश्वर के घर पर आयकर विभाग के छापे पड़े है। अभी किसी तरह का कोई सबूत नहीं मिला है।

source-twitter

पूर्व डिप्टी सीएम जी परमेश्वर के पास से बरामद करोड़ो रुपये

कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम जी परमेश्वर के यहां आयकर विभाग ने छापे मारे जिसमें उनके शिक्षण संस्थानों से 4.5 करोड़ रूपए बरामद हुआ थे। इस छापेमारी में विभाग को कई अहम दस्तावेज भी मिले हैं। आयकर विभागों के सूत्रों के मुताबिक परमेश्वर के 30 ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। इस दौरान टीम को कई अहम दस्तावेज मिले हैं। इसमें उनके संबंधित ट्रस्ट के जरिए संचालित मेडिकल कॉलेज की अनियमितता से जुड़े दस्तावेज शामिल है।

source-google

सिद्धार्थ मेडिकल कॉलेज में छापामारी

कल आयकर छपे में बरामद हुए पैसों के कारण आज भी बेंगलुरु में सिद्धार्थ मेडिकल कॉलेज के परिसर में आज आयकर की छापेमारी जारी है। जो कांग्रेस नेता और पूर्व डिप्टी सीएम जी परमेस्वर से संबंधित ट्रस्ट द्वारा चलाया जाता है।

source-google

पतंजलि आयकर महानिदेशक ने कहा कि ‘कल आयकर छापे में कुल 4.52 करोड़ रुपये बरामद किए गए थे। आयकर विभाग ने कल कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम जी परमेस्वर के करीब 30 ठिकानों पर छापे मारे।

source-twitter

गुरुवार सुबह से छापे मारने शुरू

बता दें कि कांग्रेस नेता के ट्रस्ट से संबधित कालेजों के समूह में कथित अनियमितताओं को लेकर आईटी विभाग ने गुरुवार सुबह छापे मारे। सूत्रों के मुताबिक तकरीबन साढ़े छह बजे आईटी अधिकारियों ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया। आरोप है कि ग्रुप ने मेडिकल और इंजिनियरिंग कॉलेजों में ऐडमिशन के जरिए अवैध तरीके से काफी पैसा इकट्ठा किया हुआ था।

source-google

शिक्षण संस्थानों पर भी छापा

पूर्व डिप्टी सीएम जी परमेश्वर ने कहा कि ‘उन्होंने मेरे शिक्षण संस्थानों पर भी छापा मारा है। मुझे छापेमारी की जानकारी नहीं है। मुझे नहीं पता कि वे छापेमारी कहां कर रहे हैं, उन्हें तलाशी लेने दें, मुझे कोई दिक्कत नहीं है। अगर हमारी तरफ से कोई गलती होगी तो इसे सुधारेंगे।’

source-google
12 October, 2019

About Author

Ashish Jain