जम्मू-कश्मीर: फिर बन सकती है गठबंधन की सरकार, NC-पीडीपी-कांग्रेस के बीच बैठक के बाद होगा फैसला
ब्रेकिंग

जम्मू-कश्मीर: फिर बन सकती है गठबंधन की सरकार, NC-पीडीपी-कांग्रेस के बीच बैठक के बाद होगा फैसला

नई दिल्ली: भारी बर्फबारी और हड्डी जमा देने वाली ठंड के बीच धरती के ‘स्वर्ग’ में सियासी हलचल से गर्माहट पैदा हो गई है। राज्यपाल शासन पूरा होने की तारीख के साथ-साथ सूबे में सियासी चर्चाएं तेज होने लगी है। राज्य में एक बार फिर गठबंधन की खबरें है, लेकिन इस बार भाजपा नहीं, बल्कि कांग्रेस, पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के बीच होने की संभावना जताई जा रही है।

उमर अब्दुल्ला और गुलाम नबी आजाद (फाइल फोटो)
साभार-गूगल

खबर है की तीनों दलों के बीच कश्मीर में सरकार बनाने पर बातचीत चल रही है। हालांकि, बीजेपी ने इस कोशिश को पाकिस्तान प्रायोजित करार दिया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को बताया कि एक सुझाव के तौर पर इस दिशा में बातचीत चल रही है। उन्होंने कहा कि पार्टियों (पीडीपी, एनसी, कांग्रेस) का ये कहना था कि क्यों न हम इकट्ठा हो जाएं और सरकार बनाएं। अभी सरकार बनाने वाली स्टेज नहीं है, एक सुझाव के तौर पर बातचीत चल रही है।

कांग्रेस की प्रभारी महासचिव अम्बिका सोनी ने कश्मीर में प्रदेश अध्यक्ष और विधायक दल के नेता के नेतृत्व में एक पैनल का गठन किया है। ये पैनल ही उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती से बात कर रहा है। 23 नवंबर को अम्बिका ने दिल्ली में जम्मू कश्मीर के 50 नेताओं को बैठक के लिए बुलाया है। उधर, जम्मू कश्मीर के बीजेपी नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री कवींद्र गुप्ता पीडीपी, एनसी और कांग्रेस के गठबंधन पर गंभीर इल्जाम लगाया है। गुप्ता का आरोप है कि बीजेपी को सरकार बनाने से दूर रखने के लिए दुबई में साजिश रची गई है, जो पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित है। उन्होंने कहा कि अगर राज्य में इन तीनों दलों के गठबंधन की सरकार बनती है तो यह जनता के साथ विश्वासघात होगा।

ये है विधानसभा के समीकरण
बता दें, जम्मू-कश्मीर विधानसभा में कुल 89 सीटे हैं, जिनमें से दो सदस्य मनोनीत किए जाते हैं। ऐसी स्थिति में सरकार बनाने के लिए 44 विधायकों की जरूरत होती है। मौजूदा स्थिति में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के पास 28, बीजेपी के 25 और नेशनल कॉन्फ्रेंस के पास 15 और कांग्रेस के पास 12 सीटे हैं। यानी अगर पीडीपी, कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस एक साथ आते हैं, तो आंकड़ा 55 तक पहुंच रहा है और आसानी से सरकार का गठन किया जा सकता है। अब इसी कोशिश में लगे हैं सभी।

अब सवाल ये भी है कि अगर गठबंधन हो भी गया तो किसके जिम्मे राज्य को सौंपा जाएगा। ऐसे में नाम सबसे ऊपर पीडीपी नेता अल्ताफ बुखारी का चल रहा है। हालांकि, जब बुखारी से बात की गई तो उन्होंने कहा गठबंधन की चर्चा तो चल रही है, लेकिन कौन सीएम होगा इसकी जानकारी आपको जल्द मिल जाएगी।

21 November, 2018

About Author

[email protected]