भारत का यह राज्य बना भगवान शिव की नगरी, हजारों की संख्या में प्रकट हुए शिवलिंग
ब्रेकिंग, रोचक खबरें, श्रद्धा के भाव

भारत का यह राज्य बना भगवान शिव की नगरी, हजारों की संख्या में प्रकट हुए शिवलिंग

नई दिल्ली: हमारे देश भारत में देवी-देवताओं को बहुत ही रीति-रिवाजों के साथ पूजा जाता है। ख़ासकर जब महिना सावन को हो, तब शिव भक्तों का क्या कहना। सावन के महिने में लोग भगवान शिव के शरण में जल अर्पित करने जाते है। झारखंड के देवघर में लाखों की संख्या में लोग भगवान शिव का दर्शन करने जाते है। सावन महिनें में सोमवार के दिन वहां भक्तों की संख्या कुछ ज्यादा ही हो जाती है। लेकिन इन सब से हटकर हम आपको एक ऐसे जगह के बारे में बताने जा रहें है। जहां हजारों की संख्या में शिवलिंग मौजूद है। इसलिए इस स्थान को सहस्त्रलिंग के नाम से जाना जाता है।

Shiv Linga Source-Twitter
  • जी हां कर्नाटक के उत्तर कन्नड़ जिले से लगभग 14 किलो मीटर की दूरी पर स्थित सहस्त्रलिंग एक तीर्थ स्थान है। जहां हजारों की संख्या में शिवलिंग मौजूद है। बता दें कि यह तीर्थस्थान कर्नाटक की शाल्मला नदी के पास स्थित है। यहां पर सभी शिवलिंग नदी में या फिर नदी के किनारे चट्टानों पर ऊभरे हुए है। जैसे-जैसे नदीं का पानी कम होता है
  • वहां हजारों की संख्या में शिवलिंग प्रकट हो जाते है। कहा जाता है कि इन शिवलिंगों का निर्माण सिरसी राज्य के राजा सदाशिवराव वर्मा (1678-1717) के शासन काल में हुआ था। यहां प्रत्येक शिवलिंग के सामने भगवान शिव की सवारी बसवा बैल मौजूद है। शिवलिंग भगवान शिव का प्रतिक है। महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव की पूजा करने यहां पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु आते है।

    यह भी पढ़े: चंद्रयान 2(Mission Chandrayaan 2) के सफल परिक्षण के बाद शुरू हुआ बधाइयों का दौर
Shiv Linga 1000 Lingas in Karnataka Mandir
Shiv Linga source-google
22 July, 2019

About Author

[email protected]