जम्मू-कश्मीर में 7 लोग गंभीर रूप से घायल
देश, ब्रेकिंग

जम्मू-कश्मीर में 7 लोग गंभीर रूप से घायल

जहां जम्मू कश्मीर में कुछ देर पहले मोबाईल सेवा को बहाल करने की बात कही जा रही थी जिसके बाद एक ऐसा मामला सामने आया जिसने जम्मू-कश्मीर  की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए है। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में कड़ी सुरक्षा के बावजूद हरि सिंह हाइट स्ट्रीट के पास आतंकियों ने ग्रेनेड फेंका था जिसकी वजह से 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं, यह ग्रेनेड अटैक तब हुआ है, जब घाटी में सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम बेहद सख्त हैं और हर जगह जवानों की सघन तैनाती की जा रही थी। घायलों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

source-twitter

पहले भी हुए है कई हमले

इससे पहले जम्मू कश्मीर के अवंतीपुर में मंगलवार को सुरक्षाबलों की आतंकियों के साथ मुठभेड़ हुई थी जिसमें सुरक्षा बलों ने एक आतंकी को मार गिराया था। मारे गए आतंकी की पहचान लश्कर-ए-तैयबा के अबु मुस्लिम के रूप में हुई थी। इसके अलावा घाटी में आतंकी दलों के सक्रिय होने की हाल ही में जानकारी आई थी। इसी वजह से घाटी में सुरक्षाबलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

source-google


सेना और पुलिस के जवानों ने अंवतीपुर में एक एनकाउंटर में उफेद फारूक लोन को मार गिराया।  फारूक भी लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी था। फारूक कई आतंकी मामलों में वांछित था, उसने जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 समाप्त होने के बाद कई आतंकी गतिविधियों को अंजाम दिया था। हाल में ग्रेनेड हमला और दुकानदारों को डराने धमकाने के मामले में पुलिस को उसकी तलाश थी।

source-google

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बावजूद पत्थरबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। 5 अगस्त से लेकर अब तक जम्मू-कश्मीर में 300 से ज्यादा बार पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आ चुकी हैं, हालांकि सुरक्षाबलों की ओर से लगातार घाटी में हालात सामान्य होने का दावा किया जा रहा है। इससे पहले दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों ने पांच अक्टूबर को ग्रेनेड हमला किया था। डीसी ऑफिस के बाहर किए गए इस हमले में एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी और एक पत्रकार समेत 14 लोग घायल हुए थे।

source-google
12 October, 2019

About Author

Ashish Jain